गणेशजी भगवान की चिमटी में चावल और चम्मच में खीर वाली कहानी | BUDHIYA MAAI AUR GANESH JI BHGWAN KI KHIR VALI KAHANI

By | September 21, 2020
Shiv Puran Ke Anusar Ganesh Bhagwan Ki Janm Katha

गणेशजी भगवान की चिमटी में चावल और चम्मच में खीर वाली कहानी

BUDHIYA MAAI AUR GANESH JI BHGWAN KI KAHANI KI KHIR VALI KAHANI

एक बार गणेशजी भगवान बालक रूप धारण कर पृथ्वी पर निकले | उन्होंने एक चम्मच दूध ले लिया और चिमटी में चावल लेकर सबको कहने लगे – कोई माई खीर बना दो , कोई माई खीर बना दो | परन्तु सबने बालक समझकर हंसकर टाल  दिया | एक बुढिया माई बोली बेटा तेरा नाम क्या हैं ? ला मैं तेरी खीर बना दू | बालक ने कहा मेरा नाम गणेश हैं | गणेश दूध और चावल माई को देकर चला गया | बुढिया माई ने छोटी भगोनी में दूध चढाया परन्तु दूध छीज गया और चावल जल गये | जब बालक रूपधारी गणेश आया और पूछा – माई खीर बना दी तब बुढिया माई ने कहा ! छोटी भगोनी में दूध चढाया परन्तु दूध छीज गया और चावल जल गये | तब गणेश जी ने कहा ! माई तुझे तो बनाना नहीं आता तू स्नान ध्यान से निर्वत होकर गणेशजी भगवान का नाम लेकर बड़ा भगोना चढ़ा देना | खीर बन जायेगी | दुसरे दिन बुढिया माई ने वैसा ही किया और खीर बन गई | बुढिया माई अपनी बहूँ से बोली मैं गणेश को बुला कर लाती | बुढिया माई नगरी में गणेश को आवाज लगाने  लगी गणेश , गणेश | गणेश जी भगवान प्रकट हुए और बोले माई मेरे तो भोग लग गया | तब बुढिया माई बोली हे गणेश भगवान आपको भोग कैसा लगा  तब गणेशजी भगवान ने कहा ! माई तेरी बहूँ ने मेरा नाम लेकर हे गणेशजी भगवान भोग लगना ऐसा कहकर एक कटोरी खीर पिली | मैं तो श्रद्धा और प्रेम का भूखा हूँ | तब बुढिया माई बोली हे गणेश जी भगवान बहूँ के भ्रम को बनाये रखना किसी को मत बताना | अब मैं क्या करू | तब गणेशजी भगवान ने कहा – हे बुढिया माई नगरी जीमा दे और जो बचे उसे घर के चारों कोनों में गाढ़ दे तेरे अन्न धन के भंडार भर जायेंगे | बुढिया माई ने नगरी नूत दी लोगी ने कहा गरीब बुढिया माई क्या जिमाएगी | पर चलो उसके घर पर पानी का लोटा ही गिरा कर आयेंगे | जो भी आया जीम कर गया किसी ने भी ऐसी स्वादिष्ट खीर पहले कभी नहीं खाई थी | सबने बुढिया माई से पूछा तब बुढिया माई ने निष्कपट भाव से सारी बात बता दी | सारा गाँव बुढिया माईकी बात सुन कर बुढिया माई की श्रद्धा भक्ति भोलेपन की प्रशंसा कर रहे थे | बुढिया माई के अन्न धन के भंडार भर गये झोपडी की जगह महल बन गया | हे गणेश जी भगवान जैसा बुढिया माई को दिया वैसा सबको देना सब पर अपनी कृपा बनाये रखना |  

अन्य समन्धित पोस्ट 

करवा चौथ की पूजा विधि  , कहानी 

करवा चौथ पूजा में सुनी जाने वाली कहानी

अन्य समन्धित कथाये

कार्तिक स्नान की कहानी 2 

कार्तिक मास में राम लक्ष्मण की कहानी 

इल्ली घुण की कहानी 

तुलसी माता कि कहानी

पीपल पथवारी की कहानी

करवा चौथ व्रत की कहानी

आंवला नवमी व्रत विधि , व्रत कथा 

लपसी तपसी की कहानी 

देव अमावस्या , हरियाली अमावस्या

छोटी तीज , हरियाली तीज व्रत , व्रत कथा 

रक्षाबन्धन शुभ मुहूर्त , पूजा विधि 15 अगस्त 2019

कजली तीज व्रत विधि व्रत कथा 18 अगस्त 2019

भाद्रपद चतुर्थी व्रत कथा , व्रत विधि

नाग पंचमी व्रत कथा

हलधर षष्ठी व्रत विधि व्रत कथा [ उबछठ ]

जन्माष्टमी व्रत विधि , व्रत कथा

गोगा नवमी पूजन विधि , कथा

सोमवार व्रत की कथा

सोलह सोमवार व्रत कथा व्रत विधि

मंगला गौरी व्रत विधि , व्रत कथा

स्कन्द षष्टि व्रत कथा , पूजन विधि , महत्त्व

ललिता षष्टि व्रत पूजन विधि महत्त्व

कोकिला व्रत विधि , कथा , महत्त्व

 

 

 

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.