जीवित्पुत्रिका व्रत को करने के नियम , पूजा विधि , जीवित्पुत्रिका व्रत का महत्त्व , जीवित्पुत्रिका व्रत की पौराणिक कथा | JIVITPUTRIKA VRAT KO KRNE KE NIYAM , POOJA VIDHI , MAHTTV , JIVITPUTRIKA VRAT KI KATHA

By | September 13, 2020

  जीवित्पुत्रिका व्रत को करने के नियम , पूजा विधि , जीवित्पुत्रिका व्रत का महत्त , जीवित्पुत्रिका व्रत की पौराणिक कथा जीवित्पुत्रिका व्रत करने से क्या फल प्राप्त होता हैं यह व्रत किस मास में किया जाता हैं इस व्रत को करने का क्या विधान हैं आइये जानते हैं जीवित्पुत्रिका व्रत को करने के नियम… Read More »

गरुड़ पुराण क्या है, इसका इतना महत्त्व क्यों है? क्या मृत्यु के समय ही करना चाहिए गरुड़ पुराण का पाठ? जानें रहस्य | Garuda Puran ka Mahttv

By | September 12, 2020

गरुड़ पुराण क्या है, इसका इतना महत्त्व क्यों है? क्या मृत्यु के समय ही करना चाहिए गरुड़ पुराण का पाठ? जानें रहस्य पुराण वांग्मय में गरुड़ पुराण का महत्वपूर्ण स्थान है |क्योंकि सर्वप्रथम परब्रह्म परमात्मा प्रभु ने साक्षात् भगवान विष्णु ने ब्रह्माजी आदि देवताओं सहित देवेश्वर भगवान रुद्रदेव को सभी शास्त्रों में सारभूत  तथा महान… Read More »

भगवान श्री हरी के सुदर्शन चक्र की पूजा विधि | bhagwan shree hari ke sudrashn chakra ki pooja vidhi

By | September 12, 2020

भगवान श्री हरी के सुदर्शन चक्र की पूजा विधि भगवान विष्णु श्री हरि ने किस तरह से सुदर्शन चक्र प्राप्त किया यह हम पढ़ चुके हैं अब हम यह जानेंगे कि सुदर्शन चक्र की पूजा करने से क्या लाभ होते हैं और सुदर्शन चक्र की पूजा की क्या विधि है उसकेविधि पूर्वक पूजन करने के… Read More »

पुण्यकारी रामायण कथा सार | punykaari ramaayan katha saar

By | September 12, 2020

पुण्यकारी राम चरित्र मानस का सारांश punykaari ramaayan katha saar अब मैं रामायण का वर्णन करता हूं जिसके सुनने मात्र से ही समस्त पापों का नाश हो जाता है यह पुण्यकारी , कल्याणकारी ,आदर्श कथा हैं भगवान विष्णु के नाभि कमल से ब्रह्मा जी की उत्पत्ति हुई ब्रह्मा जी से मरीचि ऋषि मरीचि ऋषि से… Read More »

करवा चौथ व्रत की पूजा सामग्री , महत्त्व व पूजा विधि 2018 | Karva Chauth Vrat Ki Puja Samgri , Mahattv And Puja Vidhi 2018

By | September 12, 2020

करवा चौथ व्रत का महत्त्व  करवा चौथ व्रत की पूजा सामग्री , महत्त्व व पूजा विधि 2020  | Karva Chauth Vrat Ki Puja Samgri , Mahattv And Puja Vidhi 2020    कार्तिक कृष्णा चतुर्थी को मनाया जाने वाला वाला यह व्रत सौभाग्यवती स्त्रियों के द्वारा किया जाता हैं | यह व्रत स्त्रियों को बहुत प्रिय… Read More »

पितृ पक्ष , श्राद्ध की महिमा , श्राद्ध करने के पवित्र लाभ | Pitru Paksha , Shrad Ki Mahima , Shrad Ke Pavitra Labh

By | September 14, 2020

पितृ पक्ष  श्राद्ध Pitru Paksha , Shrad Ki Mahima , Shrad Ke Pavitra Labh 1 सितंबर- पूर्णिमा का श्राद्ध, 2 सितंबर- प्रतिपदा का श्राद्ध, 3 सितंबर- द्वितीया का श्राद्ध, 5 सितंबर- तृतीया का श्राद्ध, 6 सितंबर- चतुर्थी का श्राद्ध 7 सितंबर- पंचमी का श्राद्ध 8 सितंबर- षष्ठी का श्राद्ध, 9 सितंबर- सप्तमी का श्राद्ध, 10… Read More »

पितृ पक्ष 2020 तारीख 1सितम्बर शुरू 17 सितम्बर तक , पितृ देव की आरती | Pitar Paksha 2020 Date , Piter Dev Ji Ki Aarti

By | August 31, 2020

इस वर्ष 01  सितम्बर से 17 सितम्बर तक हैं पितृ पक्ष पितरो को प्रसन्न करने के अद्भुद दिवस | भाद्रपद पूर्णिमा से ही श्राद्ध पितृ पक्ष शुरू होते हैं जो आश्विन अमावस्या तक चलते हैं | श्राद पक्ष में आने के कारण इस पूर्णिमा का महत्त्व बढ़ जाता हैं | इस पूर्णिमा को दान करना… Read More »

सुदर्शन चक्र की कथा | surdarshan chakra ki katha

By | August 29, 2020

सुदर्शन चक्र की कथा surdarshan chakra ki katha एक बार शिवजी को प्रसन्न करने के लिए भगवान विष्णु ने घोर तप किया |भगवान विष्णु ने 1000 कमल एकत्रित किए शिव सहस्त्रनाम स्तोत्र का पाठ किया | देवा दी देव भगवान शिव ने भगवान विष्णु के एक कमल को लुप्त कर दिया | जब सहस्त्रनाम का… Read More »

dushala ke janm ki katha | क्या आप जानते हैं गांधारी के सौ पुत्रो के अतिरिक्त एक पुत्री भी थी उस पुत्री का नाम क्या था उसका जन्म कैसे हुआ

By | August 21, 2020

क्या आप जानते हैं गांधारी के सौ पुत्रो के अतिरिक्त एक पुत्री भी थी उस पुत्री का नाम क्या था उसका जन्म कैसे हुआ | दु:श्ला  नाम वाली उस कन्या की  कामना गांधारी ने  मन ही मन कैसे की | महर्षि व्यास के प्रसाद से धतराष्ट्र और गांधारी के सौ पुत्र हुए परंतु यह कम… Read More »

द्रोपदी के पाचं पति नियति ने किये थे तय क्या हैं इसके पीछे की कथा | Drauopdi ke paanch pati niyti ne ty kiye kya hain iske pichhe ki katha

By | August 20, 2020

द्रोपदी का पांचों पांडवों के साथ विवाह होने के पीछे क्या कारण था ?  क्या जुडी थी कोई पूर्व जन्म की कथा आइए जानते हैं| पूर्व जन्म में द्रोपदी एक तपोवन में किसी महात्मा मुनि की कन्या थी | सती , साध्वी एवं रूपवती होने पर भी उसे कोई योग्य पति की प्राप्ति नहीं हुई… Read More »