अंगारक चतुर्थी संकष्टी चतुर्थी | ANGARKI CHATURTHI

अंगारक चतुर्थी -संकष्टी चतुर्थी  2 मार्च, मंगलवार फाल्गुन मास की कृष्ण पक्ष की चतुर्थी को अंगारकी चतुर्थी का व्रत है। अंगारकी चतुर्थी व्रत में  भगवान गणेश विधि विधान से पूजा अर्चना और व्रत किया जाता है ऐसी मान्यता है कि इस दिन भगवान गणेश की विधि पूर्वक पूजा अर्चना करने से सभी मनोकामनाएं पूर्ण हो […]

धरती माता की कहानी | DHARTI MATA KI KAHANI

धरती माता की कहानी  एक ब्राह्मणी थी | वह बहुत धार्मिक महिला थी | सभी ग्रामवासी उसका बहुत सम्मान करते थे | कोई भी उसकी शरण में आता वह सबकी मदद किया करती थी | मन ही मन भगवान का स्मरण किया करती थी | भगवान की सेवा पूजा व जरूरतमन्दो की सेवा ही उसका […]

धर्मराज जी की कहानी , व्रत विधि , आरती धर्मराज मन्त्र , | Dharamraj Ji Ki Kahani , vrat vidhi , Dharmraj ji ki aarti,Dharmraj Mantra

धर्मराज जी की कहानी  धर्मराज जी की कहानी Dharamraj Ji Ki Kahani एक ब्राह्मणी मरकर भगवान के घर गई | वहाँ जाकर बोली , “ मुझे धर्मराज  जी के मन्दिर का रास्ता बता दो |” स्वर्ग से एक दूत आया और बोला , ब्राह्मणी आपको क्या चाहिए | वो बोली मुझे धर्मराज मन्दिर का रास्ता […]

जया एकादशी [ माघ शुक्ल पक्ष ] | Jaya Ekadashi [ Magh Shukal Paksh ]

जया एकादशी माघ शुक्ल पक्ष  माघी एकादशी    युधिष्ठर ने पूछा – स्वामी ! माघ शुक्ल पक्ष की एकादशी का क्या नाम हैं ? उसकी क्या विधि हैं तथा इस दिन किसकी पूजा की जाती हैं ? तथा उससे किस फल की प्राप्ति होती हैं ? यह बतलाइए | भगवान वासुदेव ने कहा – हे […]

गणेश जी भगवान की सेठ सेठानी की कहानी | seth sethani ki ganesh ji bhgwan ki kahani

गणेश जी भगवान की सेठ सेठानी पर अपनी कृपा बनाए रखने की कहानी एक गावं था जिसमे एक सेठजी अपने परिवार के साथ रहते थे । सेठजी का गावं के पास के ही शहर में बड़ा व्यापार था। सेठजी गणेश जी की पूजा श्रद्धा एवं विश्वास से करते थे। जिससे सेठ जी के घर में […]

श्री विन्ध्येश्वरी चालीसा Vindheshwari Chalisa in Hindi

 श्री विंधेश्वरी चालीसा || दोहा || नमो नमो विन्ध्येश्वरी, नमो नमो जगदंब। संत जनों के काज में, करती नहीं बिलंब॥ || चौपाई || जय जय जय विन्ध्याचल रानी। आदि शक्ति जगबिदित भवानी॥ सिंह वाहिनी जय जगमाता। जय जय जय त्रिभुवन सुखदाता॥ कष्ट निवारिनि जय जग देवी। जय जय संत असुर सुरसेवी॥ महिमा अमित अपार तुम्हारी। […]

धर्मराज जी की परम भक्त पोपा बाई की कथा | popa baai ki katha | dharmraj ji ki bhakat popa baai

धर्मराज जी की परम भक्त पोपा बाई की कथा| popa baai ki katha| dhamraj ji ki bhakat popa baai एक गाँव में एक पोपा बाई रहती थी |  जब वह पाचं साल की थी तभी से वह नियम से धर्मराज जी व्रत की कथा सुनती थी और व्रत करती थी | एक दिन उसने अपने […]

सुखी जीवन अपनाये – शांति , समृद्धि और खुशहाली |SUKHI JIVAN ME YE GUN APNAYE – SHANTI , SMRIDDHI AUR KHUSHAHALI

सुखी जीवन जीने के लिए क्या करे क्या नहीं करे . सुखी जीवन अपनाये – शांति , समृद्धि और खुशहाली…….. जीवन में ये गुण अपनाये – शांति , समृद्धि और खुशहाली सुखी रहने के आसन उपाय अपनाए और सदैव खुश रहे करुणा,ईमानदारी,क्षमाशीलता,विनम्रता,मधुरवाणी,शांतचित गुणों को अपनाकर बनाये अपना जीवन सुखमय एव शांतमय  शांति समृद्धि खुशहाली  …. […]

Karpura Gauram Karuna Avataram) कर्पूरगौरं करुणावतारं,

Karpura Gauram Karuna Avataram कर्पूरगौरं करुणावतारं, कर्पूरगौरं करुणावतारं, संसारसारम् भुजगेन्द्रहारम्। सदावसन्तं हृदयारविन्दे, भवं भवानीसहितं नमामि॥ इस मन्त्र में देवादिदेव भगवान भोल नाथ की स्तुति की गई हैं इसका अभिप्राय यह हैं की कर्पूरगौरं – भगवान भोलेनाथ गौरवर्ण वाले , करुणावतारं – करुणानिधि करुणा के सागर हैं , संसारसारम् सम्पूर्ण सृष्टि के सार हैं भुजगेन्द्हारम्- शेषनाग […]

दशामाता व्रत की कहानी , पूजा व्रत विधि 2021 , | Dashamata Vart ki kahani , puja Vidhi 2021

दशामाता व्रत की कहानी , पूजा विधि 06 अप्रैल 2021 दशा माता व्रत की पूजा विधि =  चैत्र मास के कृष्ण पक्ष की दशमी को दशामाता का पूजन एवं व्रत करते हैं | होली के दुसरे दिन से ही दशामाता का पूजन एवं कहानी पुरे दस दिन सुनी जाती हैं | प्रतिदिन प्रात: स्त्रियाँ स्नानादि […]

Back To Top