लाल रंग का धार्मिक महत्त्व | Laal Rang Ka Dharmik Mahattv

By | December 22, 2018

लाल रंग 

हिन्दू धर्म में लाल रंग का विशेष महत्त्व हैं | सभी शुभ कार्यो में लाल रंग का उपयोग किया जाता हैं | सभी देवी – देवताओ को लाल चन्दन या लाल रोली का टिका लगाया जाता हैं |

लाल रंग चन्द्रमा का प्रतीक हैं | लाल रंग सोभाग्य , वीरता , पवित्रता का प्रतीक हैं | जब सिपाही युद्ध भूमि में जाता हैं तो उसे लाल टिका लगाया जाता हैं लाल टिका शौर्य , वीरता , जीत का प्रतीक हैं | सौभाग्वती महिलाये लाल बिंदी व लाल सिंदूर से अपनी मांग सजाती हैं | उसकी सुन्दरता को बढ़ता हैं उसके सोभाग्य का प्रतीक पति प्रेम को दर्शाता हैं | लाल रंग स्नेहमयी हैं|

धार्मिक दृष्टि से रंगो का महत्त्व यहाँ पढ़े

 माँ भगवती दुर्गा स्नेहमयी लाल वस्त्रो में सुसज्जित होती हैं | माँ लक्ष्मी लाल रंग के कमल पर विराजमान रहती हैं | जो समृद्धि , धन – धान्य  का प्रतीक हैं | लाल रंग दृढ संकल्प को बढ़ाता हैं | लाल रंग हमारी संस्कृति का प्रतीक हैं |लाल रंग से सकारात्मक उर्जा प्राप्त होती हैं | धार्मिक कार्यो में लाल रंग का उपयोग प्रचुर मात्रा में किया जाता हैं |

हरा रंग का धार्मिक महत्त्व

यह भी जाने :-

रंगो का धार्मिक महत्त्व 

धर्म की परिभाषा 

लड्डू गोपाल जी की पूजा विधि

व्रत उपवास का महत्त्व

गाय का धार्मिक महत्त्व 

बारह ज्योतिर्लिंग दर्शन 

श्री शालग्राम भगवान पूजा का महत्त्व 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.