फुलेरा दूज का महत्त्व , इस दिन क्या करे | Phulera Dooj Ke Din Kya Kaya Kre Pati Patni

फुलेरा दूज

 फुलेरा दूज Phulera Dooj

फाल्गुन महीने के शुक्ल पक्ष की द्वितीया तिथि को हर साल फुलेरा दूज Phulera Dooj का त्योहार बड़ी धूम – धाम से  मनाया जाता है | इस वर्ष यह पर्व 15 मार्च 2021 सोमवार को है | यह फाल्गुन का महीना चल रहा है। यह सबसे शुभ और पवित्र महिना माना जाता है। इस माह का सबसे शुभ और अबूज मुहूर्त फुलेरा दूज है। ऐसी मान्यता हैं की फुलेरा दूज का सम्पूर्ण दिन शुभ होता है। शास्त्रों के अनुसार- भगवान श्रीकृष्ण और श्री राधा जी ने इसी दिन फूलों की होली खेली थी , जिसे फाग खेलना भी कहते हैं यह फाल्गुन माह के शुक्ल पक्ष की फुलेरा दूज की शुभ तिथि थी। इसलिए इस तिथि को फुलेरा दूज कहा जाता है। यह त्यौहार श्रीकृष्ण और श्री राधा जी को समर्पित है। इस दिन लोग अबीर – गुलाल से और विभिन्न प्रकार के सुघनदित रंग बिरंगे फूलो से होली खेलते हैं। इसी दिन से होली का आरंभ हो जाता है। यह दिन पवित्र व पुण्यकारी शुभ ग्रह नक्षत्रो से युक्त माना गया है। आज 15 मार्च को फूलेरा दूज है।

 शास्त्रों की मान्यतानुसार फुलेरा दूज के शुभ दिन श्रीराधा-कृष्ण मन्दिर में फागोत्सव करता हैं तो उसकी सभी मनोकामनाए पूर्ण हो जाती हैं | उसकी समस्त सात्विक इच्छाये अवश्य पूर्ण हो जाती है। इस दिन नया व्यापर , शुभ विवाह , गृह प्रवेश ,वाहन खरीदने , किसी भी शुभ कार्य के प्रारम्भ के लिए यह दिन विशेष हैं |

फुलेरा दूज के दिन क्या करना चाहिए –

1.  इस दिन स्नानादि से निवर्त होकर नवीन वस्त्र धारण करे |

2.  श्री राधा कृष्ण समक्ष परिवार व मित्र जनों संग नृत्य भजन करे |

3 इस दिन शृंगार की वस्तुओं का दान करना चाहिए।

4  राधा-कृष्ण की उपासना करनी चाहिए।

5 इस दिन श्री राधा – कृष्ण का श्रृंगार फूलों से ही करना चाहिए।

6  इस दिन अपने घर और मंदिरों में स्थापित भगवान की मूर्तियों को विभिन्न सुगन्धित पुष्पों से सजाते हैं।

7 फुलेरा दूज के शुभ दिन श्रीराधा-कृष्ण मन्दिर में फागोत्सव करना चाहिए |

8  फुलेरा दूज के दिन सभी मनोकामनाए पूर्ण हो जाती है |  यह दिन भक्तों के जीवन में खुशियां लेकर आता है। होली की तौयारियां इस दिन से शुरू हो जाती हैं।

9  मान्यता है कि भगवान श्रीकृष्ण ने इसी दिन से होली खेलने की शुरुआत की थी |

 10 प्रसाद में श्वेत मिष्ठान अर्पित करे |

11 परिवार के सदस्यों व मित्र जनों को प्रसाद वितरित करे |

12 स्वयं प्रसाद ग्रहण करे |

13 इस दिन गुलाबी धागा अपने शयन कक्ष के पलंग के चारो पायो पर बांधे इससे पति पत्नी में प्यार बढ़ता हैं | कभी तकरार नहीं होती |

फुलेरा दूज के दिन पति पत्नी को क्या करना चाहिए |

इस दिन अपने साथी से तर्क वितर्क ना करे |

अपने जीवन साथी के पसंद की वेशभूषा धारण करे |

अपने जीवन साथी संग भगवान कृष्ण को अबीर गुलाल सुगन्धित पुष्प अर्पित करे |

श्वेत मिष्ठान को भोग लगाकर स्वयं प्रसाद ग्रहण करे |

भगवान श्री राधा कृष्ण की कृपा से आपका प्रेम दिनों दिन बढ़ता जायेगा , आपसी सामंजस्य बढ़ेगा |

अन्य समन्धित पोस्ट

शिवरात्रि व्रत कथा 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back To Top