Category: व्रत विधि

|| श्री सत्यनारायण जी की आरती ||

जय लक्ष्मी स्वामी , प्रभु जय कमला स्वामी | प्रभो सत्यनारायण जय अन्तर्यामी || टेर || शुक्ल…वर्ण पीताम्बर…वनमाला धारी | चक्र सुदर्शन कर में  , रिपुगण भयकारी || १ || शंक  गदात्पल सुन्दर , हाथों में सोहे | तब सुन्दरता देखत , कोटि मदन मोहे || २ || राधा – कृष्ण तुम्हीं हो , तुम […]

|| आरती जगदीश हरे की || Aarti Jagdish Hare Ki

| आरती जगदीश हरे की || Aarti Jagdish Hare Ki ॐ जय जगदीश हरे , स्वामी जय जगदीश हरे | भक्त जनों के संकट , छिन में दूर करे || टेर || जों ध्यावे फल पावे , दुःख विनसे  मन  का  | सुख़ सम्पति घर आवे ,कष्ट मिटे तन का ||१ || मात पिता  तुम […]

रविवार ||आदित्यवार की आरती| ravivar-aadityvar-aarti

रविवार की आरती  कहूँ लगी   आरती  दास करेगे , समुन्द्र   जाके  चरणनई  बसे , कोटि  भानु जाके नख की शौभा , भार   अठारह  रमा  बलि  जाके , छप्पन भोग जाके नित प्रति लागे   अमित कोटि जाके  बाजा  बाजे , चार  वेद जाके  मुख की शौभा , शिव सनकादिक आदि ब्रह्मादिक , हिम मन्दार  जाको […]

श्री राम वन्दना, श्री राम स्तुति | Shree Ram Vandana , Shree Ram AArti

श्री राम वन्दना, श्री राम स्तुति | Shree Ram Vandana , Shree Ram AArti आपदामपहर्तार्म     दातारं     सर्वसम्पदाम |   लोकाभिरामम श्री रामम भूयो भूयो नमाम्यहम || रामाय   रामभद्राय  रामचन्द्राय  मानसे |    रघुनाथाय नाथाय सीतायाः पतये नम: || नीलाम्बुजश्यामलकोमलाग    सीतास्मारोपितवाम भागम |  माणओ  महासायक चारुचापम नमामि   रामम    रघुवंश नाथम ||   श्री राम स्तुति […]

विनायक शान्ति व्रत | VINAYAK SHANTI VRAT

विनायक शान्ति व्रत | VINAYAK SHANTI VRAT विनायक शान्ति व्रत विधि – विनायक – शान्ति व्रत  करने से सभी मानव समस्त आपतियों से मुक्त हो जाते हैं | इसके आचरण से सभी अरिष्ट नष्ट हो जाते हैं | यह विनायक – शान्ति सम्पूर्ण विघ्नों को दुर करने के लिये की जाती हैं | बिना किसी […]

बुधाष्टमी व्रत विधि, बुधाष्टमी व्रत का महात्म्य | Budhashtmi Vrat Ki Vidhi

बुधाष्टमी व्रत का महात्म्य Budhashtmi-vrat Ki Vidhi भगवान श्री कृष्ण बोले — अब में बुधाष्टमी व्रत का महात्म्य [ विधान ] बतलाता हूँ , जिसे करने वाला कभी नरक  का मुहँ नही देखता | जब जब शुक्ल पक्ष की अष्टमी को बुधवार पड़े तो उस दिन यह व्रत करना चाहिए | पूर्वाह में नदी आदि […]

Back To Top