Author: Pareek

श्रावण सोमवार व्रत शिव अंग पूजा , व्रत पूजन विधि 2021 | Sawan Somvar Vrat Shiv Ang pooja 2021

  श्रावण सोमवार व्रत का महत्त्व , व्रत पूजन विधि    मैं सभी कामनाओं को पूर्ण करने वाले श्रावण सोमवार व्रत का वर्णन करती हूँ | सभी व्रतो में श्रेष्ट यह  व्रत हैं | इस व्रत को करने से विवाह योग्य कन्या को उत्तम वर , उत्तम गुण , रूप सौन्दर्य तथा स्त्रियों को अनेक गुण […]

कामिका एकादशी व्रत [ श्रावण मास कृष्ण पक्ष ] का माहात्म्य |Kamika Ekadashi Vrat [ Sravan Maas Krishn Paksh ] Ka Mahatamy

Kamika Ekadashi Vrat [ Sravan Maas Krishn Paksh ] Ka Mahatamy कामिका एकादशी व्रत [ श्रावण मास कृष्ण पक्ष  ] का माहात्म्य युधिष्ठर ने पूछा – हे मधुसुदन ! गोविन्द ! आपको नमस्कार हैं | श्रावण कृष्ण पक्ष की कौनसी एकादशी होती हैं ? उसका वर्णन कीजिये | भगवान वासुदेव बोले –राजन ! सुनो , […]

कोकिला व्रत की कथा और महत्त्व | Kokila Vrat ki kahani , kokila vrat Katha

23  जुलाई 2021  शुक्रवार   कोकिला व्रत का महत्त्व इस व्रत को करने से सुख़ , सौभाग्य , अखंड सौभाग्य , पुत्र , सुख़ – समृद्धि ,  पति पत्नी में प्रेम बढ़ता हैं | इस व्रत को विधि – विधान से करने से मनवांछित फल की प्राप्ति होती हैं | यह व्रत स्त्रियाँ के द्वारा किया […]

श्रीमद्भगवद्गीता प्रथम अध्याय हिंदीअनुवाद SHREEMADBHAGAVAD GEETA PRATHAM ADHYAAY HINDI ANUVAAD

श्रीमद्भगवद्गीता प्रथम अध्याय हिंदीअनुवाद  SHREE MAD  BHAGAVAD GEETA CHAPTER 1 HINDI ANUVAAD   दोनों सेनाओ के प्रधान – प्रधान वीरो एवं शंख ध्वनी का वर्णन तथा स्वजन के पाप से भयभीत हुए अर्जुन का विषाद धृतराष्ट्र बोले – हे संजय ! धर्मभूमि कुरुक्षेत्र में एकत्रित हुए युद्ध की इच्छा वाले मेरे और पांडु के पुत्रो ने […]

देवशयनी एकादशी व्रत , पूजा विधि ,पौराणिक कथा 2021 | Dev Shayani Ekadashi Vrat , Puja Vidhi , Pouranik Katha 2021

देवशयनी एकादशी व्रत , पूजा विधि ,पौराणिक कथा Dev Shayani Ekadashi Vrat , Puja Vidhi , Pouranik Katha 20 जुलाई मंगलवार  2021    आषाढ़ शुक्ल एकादशी को देवशयनी एकादशी के नाम से जाना जाता हैं | भगवान सूर्य के मिथुन राशि में आने पर भगवान श्री हरिविष्णु को शयन करा दे | तुला राशि में सूर्य […]

भडली नवमी [ भडल्या नवमी] स्वयं सिद्ध मुहूर्त 2021 | Bhadli Navmi [ Bhdalyaa navmi ]2021

भडली नवमी [ भडल्या नवमी] स्वयं सिद्ध मुहूर्त आषाढ़ शुक्ल नवमी तिथि भडली नवमी जिसे आम बोलचाल की भाषा में भडल्या नवमी के नाम से जाना जाता हैं | भडली नवमी तिथि अक्षय तृतीया और बसंत पंचमी की ही तरह अबूझ मुहूर्त वाली तिथि मानी जाती हैं | भडली नवमी को शुभ कार्य किये जाते […]

आंवला नवमी व्रत कथा , आंवला नवमी की कहानी , पूजनविधि व महत्त्व2021 | Aamvala Navmi Vrat Katha , Vrat Ki Vidhi , Vrat Ka mahattv 2021

  आंवला नवमी का महत्त्व  कार्तिक मास की शुक्ल पक्ष की नवमी तिथि को आंवला नवमी व्रत करना चाहिये | आंवला नवमी को अक्षय नवमी के नाम से भी जाना जाता हैं | इस दिन किया गया पुण्य कभी समाप्त नही होता | इसका पुण्य सात जन्मो तक मिलता हैं | इस वर्ष आंवला नवमी […]

बहुला चतुर्थी व्रत की कहानी | भादुड़ी चौथ व्रत कथा | बहुला चतुर्थी व्रत पूजन विधि 2021 | Bhadrpad Chaturthi [ Bahula Chaturthi ] Vrat Vidhi Vrat Katha2021

बहुला चतुर्थी व्रत की कहानी इस वर्ष बहुला चतुर्थी [ भाद्रपद चतुर्थी ] व्रत 25 अगस्त  भाद्रपद कृष्ण पक्ष ४  बहुला चतुर्थी व्रतचन्द्रोदय 9 बजकर 27 मिनट भाद्रपद चतुर्थी [ बहुला चतुर्थी ] व्रत विधि भाद्रपद मास में कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि को चौथ माता व गणेशजी भगवान का पूजन किया जाता हैं | […]

बड पूजन अमावस्या | वट सावित्री व्रत कथा 2021 | Vat Savitri Vrat Katha

बड पूजन अमावस्या | वट सावित्री व्रत पूजन कथा | Vat Savitri Vrat Katha वट सावित्री व्रत ज्येष्ठ मास की अमावस्या को होता हैं | अखंड सौभाग्य की इच्छा रखने वाली महिलाये  तीन दिन के लिए वट सावित्री व्रत का संकल्प ले , नदी या तालाब या घर पर पानी में गंगाजल डालकर नित्य स्नान […]

क्यों हैं आरती करने का इतना अधिक महत्व | HINDU SANSKRITY KI ANMOL DHROHAR ARTI

क्या आप जानते हैं पूजा के  बाद क्यों की जाती हैं आरती आइये जानते हैं आरती करने का इतना अधिक महत्व क्यों हैं | जिस घर में हो आरती , चरण कमल चित्त लाय | तहां हरी बासा करें , ज्योत अनन्त जगाय || आरती का महत्त्व  शास्त्रों में नवधा भक्ति को उतम माना गया […]

Back To Top