Category: मंगल गीत

गुरु वन्दना | गुरुदेव का वंदन |GURU VANDANA

गुरु वन्दना | GURU VANDANA ब्रह्मानन्द परम् सुखदं केवलं ज्ञान मूर्तिम | द्व्न्दातितं गगन सदृशं तत्वमस्यादि लक्ष्यम || एकं नित्यम विमलमचल्म सर्धी साक्षिभूतं | भावातीतं त्रिगुण रहितं ,  सद्गुण तन्मामी || बंदउगुरु पद पदमु परागा | सुरुचि सुवास सरस अनुरागा || श्री गुरु पद नख मनिगन जोती | सुमिरत दिव्य , दृष्टि हियँ होती || […]

सीताराम सीताराम सीताराम कहिये | Sitaram Sitaram ,Sitaram kahiye |

|| सीताराम सीताराम सीताराम कहिये || सीताराम सीताराम सीताराम कहिये | जाही विधि राखे राम , ताहि विधि रहिये || मुख में हो राम नाम , राम सेवा हाथ में | तू अकेला नाही प्यारे राम तेरे साथ में || विधि का विधान जान हानि लाभ सहिये | जाही विधि राखे राम , ताहि विधि […]

तुलसी जी का गीत

तुलसी माता का गीत हाजी रामा  हाजीरामा ल्याओ न तुलसी रो बिड्लो ज्या घर धर्म घणेरो || टेर || हाजी रामा श्रावण में तो बीज बिखेरी भादुड़े द्योए पानी | आसोजां में घेर घुमेरा , कार्तिक में ब्याह रचावो || बाबुल पूछे सुण म्हारी तुलसी , किसीया वर थारे ढूढा || सूरज किरण तेज तपक […]

राती जगा में गाया जाने वाला गीत 6 पितर ऊबा बारण जी | RAATIJGAA GEET

राती जगा में गाया जाने वाला गीत 6 पितर ऊबा बारण जी सोनी जी खिड़की खोल पितर ऊबा बारण जी , ऊबा बारण जी, आवो पितरा बैठो जाजम ढाल काई र कारण आविया जी | आवो पितरा बैठो जाजम ढाल काई र कारण आविया जी | दादोसा बुलाया माझल  रात कारज सारण आविया जी, सारण […]

रातीजगा गीत | पितर पधारो म्हारे आंगणे  5 | piter pdhaaro mhaare aangn 5

रातीजगा गीत | पितर पधारो म्हारे आंगणे  5 | piter pdhaaro mhaare aangn 5 थार पग पग फुलडा बिछावे म्हारी माय ,  पितर पधारों म्हारे आंगनिया पितर पधारों म्हारे आंगनिया || कामधेनु गाय का गोबर मंगावा , जा बिच अंगना लिप करस्या  यो तो मोतियन चौक पुरावा म्हारी माय ,  पितर पधारों म्हारे आंगनिया ||  […]

Raatijaga mein Devi Devta ka geet 4 | रातीजगा में सभी देवी देवताओं का गीतश्री कल्याण मोत्या  वाला 4

Raatijaga mein Devi Devta ka geet | रातीजगा गाये जाने वाले  सभी देवी देवताओं का गीत   म्हारी  माता ने मेह्मंद ल्यावोसा  , देखण  मत जावोसा ,  म्हारा काना ने कुण्डल ल्यावोसा , देखण  मत जावोसा   यो आगे आगे भोमिया ,पाछे  बजरंग बाला जी   यो झंडो भेरू नाथ को , ये अगवानी सातु बहना ,  […]

राती जगा में गाये जाने वाला गीत पितर परदेश में [1 ]

पितृ जी का गीत काचं की अलमारी में टिका पडा  हैं काचं की अलमारी में नेकलिस पड़ा हैं मै कैसे पहनू रे पितर परदेश में मै कैसे पहनू रे पितर परदेश में पितर परदेश में जुझाराअपने देश में | पितर परदेश में जुझारा अपने देश में सती माता खेले खेले जी चन्दन चौक में सती […]

भजन श्री लड्डू गोपाल जी को नींद से जगाने का सुंदर सलोना प्यारा सा भजन

भजन श्री लड्डू गोपाल जी को नींद से जगाने का सुंदर सलोना प्यारा सा भजन जागो नंदलाला जागो यशोदा के लल्ला जागो | बंशी बजेया जागो जागो नन्द के लल्ला जागो || प्यारे ब्रज के लल्ला जागो जागो गयियो के ग्वाला जागो | जागो सावले सलोने लल्ला जागो जागो गायो के ग्वाला जागो | संसार […]

भजन श्री राधे गोविन्द गोपाल | bhajan shree radhe govind gopal

भजन माला  श्री  राधे गोविन्द गोपाल काट भव जाल गोवर्धन धारी | मैं आई शरण तिहारी || मैं निश दिन तुम्हे जगाती हूँ और प्रेम से राधेनाम सुनती हूँ | श्रे राधे गोविन्द गोपाल काट भव जाल गोवर्धन धारी | मैं आई शरण तिहारी || मैं निशदिन तुम्हे निलाती हूँ और नित नये वस्त्र पहनाती […]

तुलसी जी का गीत | tulasi mata ka geet

तुलसी जी का गीत | tulasi mata ka geet महाप्रसाद जननी , सर्व सौभाग्यवर्धनि  आधि व्याधि हरा नित्यं , तुलसी त्वं नमोस्तुते ||   तुलसी माता गीत  तुलसा ये महाराणी नमो नम: हर की पटरानी ये नमो नम || कुणसा महीना में बाई राणी तुलसा कुणसा महिना म हुई हरियाली || १ || कुणसा महीना […]

Back To Top