द्रोपदी का सत्यभामा को सती स्त्री के कर्तव्य की शिक्षा

द्रोपदी का सत्यभामा को सती स्त्री के कर्तव्य की शिक्षा देना | वैशम्पायन जी कहते हैं – जनमेजय ! जब पाण्डव तथा विद्वान् ब्राह्मण धर्म चर्चा कर रहे थे , …

Read More

भगवान सूर्य का युधिष्ठर को अक्षयपात्र प्रदान करने और सूर्य

Last updated on January 25th, 2020 at 03:16 pmभगवान सूर्य का युधिष्ठर को अक्षयपात्र प्रदान करने और सूर्य आराधना की कथा  विप्रवर ! ये वेदों के पारंगत ब्राह्मण मेरे साथ …

Read More
Shiv Puran Ke Anusar Ganesh Bhagwan Ki Janm Katha

शिव पुराण के अनुसार गणेशोत्पति की कथा | Shiv Puran

शिव पुराण के अनुसार गणेशोत्पति की कथा shiv Puraan Ke Anusar Ganesh Bhagwan Ki Janm Katha भगवती पार्वती की दो सखिया थी एक जया और दूसरी विजया उन्होंने माँ पार्वती …

Read More

धर्मराज जी की कहानी , व्रत विधि , आरती |

Last updated on January 15th, 2020 at 09:00 pm धर्मराज जी की कहानी एक ब्राह्मणी मरकर भगवान के घर गई | वहाँ जाकर बोली , “ मुझे धर्मराज  जी के …

Read More

सोमवती अमावस्या की कहानी , व्रत विधि

Last updated on February 11th, 2020 at 01:43 pmव्रत विधि जिस दिन सोमवार और अमावस्या तिथि हो उसे सोमवती अमावस्या कहते हैं | इस दिन पितरो का तर्पण कर दान …

Read More

पौष रविवार की कहानी , मल मास [ पौष ]

Last updated on January 18th, 2020 at 01:28 pmपौष रविवार व्रत का महत्त्व , व्रत कथा मल मास एक माह तक रहता हैं | ये पौष मास में प्रारम्भ होते …

Read More

अन्नपूर्णा स्त्रोत्र Annapurna Stotram

अन्नपूर्णा स्त्रोत्र Annapurna Stotram नित्यानन्दकरी वराभयकरी सौंदर्यरत्नाकरी। निर्धूताखिल-घोरपावनकरी प्रत्यक्षमाहेश्वरी। प्रालेयाचल-वंशपावनकरी काशीपुराधीश्वरी। भिक्षां देहि कृपावलम्बनकरी माताऽन्नपुर्णेश्वरी।।   नानारत्न-विचित्र-भूषणकरी हेमाम्बराडम्बरी। मुक्ताहार-विलम्बमान विलसद्वक्षोज-कुम्भान्तरी। काश्मीराऽगुरुवासिता रुचिकरी काशीपुराधीश्वरी। भिक्षां देहि कृपावलम्बनकरी माताऽन्नपूर्णेश्वरी।।   योगानन्दकरी रिपुक्षयकरी …

Read More

रामायण के अनुसार संतो की महिमा | Ramayan Ke Anusar

रामायण के अनुसार संतो की महिमा रामायण का हमारे दैनिक जीवन में अत्यधिक महत्व हैं | राम शब्द परमेश्वर का प्रतीक हैं और अयण शब्द मार्ग का प्रतीक हैं जो …

Read More

श्री सरस्वती चालीसा Saraswati Chalisa

Last updated on January 8th, 2020 at 02:29 pm श्री सरस्वती चालीसा || दोहा || जनक जननि पद्मरज, निज मस्तक पर धरि। बन्दौं मातु सरस्वती, बुद्धि बल दे दातारि॥ पूर्ण …

Read More

Mohini Avatar | The Only Female Avatar Of Vishnu Bhagwan

भगवान विष्णु के मोहिनी अवतार धारण करने कि कथा मोहिनी अवतार भगवान श्री हरि विष्णु के स्त्री रूप धारण करने की कथा हैं |जो इस रूप के के दर्शन व …

Read More